ALL ब्रेकिंग क्षेत्रीय मध्यप्रदेश राजनीति देश विदेश अन्य राज्य स्वास्थ-शिक्षा-व्यापार धार्मिक-पर्यटन-यात्रा खेल-मनोरंजन विशेष आलेख
।। समूचे इस्कॉन में शोक की लहर ।। भक्ति चारू स्वामी जी महाराज नही रहें
July 4, 2020 • BKK NEWS - बी.के.के. न्यूज़ (सम्पादक - राधेश्याम चौऋषिया) • देश विदेश


🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

उज्जैन, शनिवार, 04 जुलाई, 2020 । इस्कॉन की सर्वोच्च संचालन समिति के गवर्निंग बॉडी कमिश्नर एवं इस्कॉन के गुरु परम पूज्य भक्ति चारू स्वामी जी महाराज
का भगवत धाम के लिए महाप्रयाण आज दिनांक 4 जुलाई 2020 को अमेरिका के फ्लोरिडा में हुआ ।

महाराज श्री का इस तरह असामयिक अप्रकट  होना समूचे इस्कान के लिए एक अपूरणीय क्षति है । भक्ति चारू स्वामी जी महाराज को मानने वालों भक्तों पर भीषण वज्राघात हुआ है। महाराज श्री इस्कॉन के संस्थापक आचार्य कृष्णकृपामूर्ति ऐसी भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जी के परम प्रिय शिष्यों में से थे और उन्हें श्रील प्रभुपाद जी की सेवा का शुभ अवसर भी प्राप्त हुआ। विशेष रूप से प्रभुपाद जी के आखरी के क्षणों में। अपने गुरु के प्रति निष्ठा के स्वरूप उनके जीवन पर आधारित एक टीवी सीरियल धारावाहिक ,"अभय चरण " का निर्माण किया था । वे इस्कान की गवर्निंग बॉडी कमीशन के दो बार चेयरमैन रह चुके हैं।

प्रभुपाद जी के द्वारा रचित भक्ति ग्रंथों का बांग्ला भाषा में अनुवाद कर उन्होंने कृष्ण भक्तों को एक अनोखा उपहार दिया है।

उज्जैन का इस्कॉन मंदिर भी उन्होंने कृष्ण भक्ति के प्रचार प्रसार के लिए समर्पित किया। वे समस्त विश्व में कृष्ण भक्ति के प्रचार के लिए भ्रमण करते थे और यूरोप तथा अफ्रीका और अन्य देशों के जीवीसी भी थे।

उनका सदैव विचार रहता था कि, आधुनिक तकनीकों का कृष्ण भक्ति के प्रचार प्रसार में अधिक से अधिक उपयोग किया जाए ।

उनका कंठ बहुत ही मधुर था और उनके भजनों को बहुत ही प्रेम से सुना जाता था विशेष रूप से दशम स्कंध के गोपियों के बिरह में गाया गया गोपी गीत ।

भक्ति चारू स्वामी जी महाराज के नही रहने पर समूचे इस्कॉन में श्रद्धांजलि कार्यक्रम किए जाकर भजन कीर्तन किए जा रहे हैं और उनका शरीर अभी अमेरिका में है । आगे का जो निर्णय होगा वह सबको सूचित कर दिया जाएगा।

यह भी अद्भुत संयोग है कि गुरु महाराज पहली बार उज्जैन में गुरु पूर्णिमा के दिन आए थे और आज भी गुरु पूर्णिमा का दिन आरंभ हो गया है।

Bkk News

Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर

Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets - http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar